हाथरस: जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित की गयी जिला स्तरीय उद्योग बंधु समिति की बैठक

रिपोर्ट- संदीप पुंढीर

हाथरस। जनपद के उद्यमियों की समस्याओं का त्वरित निस्तारण करने के उद्देश्य से जिला स्तरीय उद्योग बंधु समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी रमेश रंजन की अध्यक्षता में आयोजित की गयी। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित समस्त विभागीय अधिकारियों को उद्यमियों की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण करके जनपद में होने वाले औद्योगिक निवेश के लिये सहयोग करने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम गत बैठक में दिये गये निर्देशों पर की गई कार्यवाही के बारे में जानकारी ली तथा जनपद में होेने वाले औद्योगिक निवेश में तेजी से कार्यवाही करने के निर्देश दियें। उन्होने सभी अधिकारियों से उद्यमियों द्वारा किये गये आवेदन पत्र पर शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दियें। उन्होने कहा कि सभी शिकायती प्रार्थना पत्र पर निर्धारित समयावधि में कार्यवाही की जाये। उन्होने कहा कि बैठक का उद्देश्य उद्यमियो की समस्याओं का निस्तारण करना है तथा प्रत्येक बिन्दुओ की रिपोर्ट निर्धारित समय में निस्तारित करके प्रगति करना सुनिश्चित करने तथा सम्बन्धित विभागों को अनुपालन आख्या प्रेषित करने के निर्देश दिये। विद्युत प्रकोष्ठ व बिल भुगतान पटल केे लिए भूमि के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने जानकारी ली। अधि0 अभि0 विद्युत वितरण खण्ड-प्रथम द्वारा अवगत कराया गया कि तकनीकि कार्य तथा हार्डवेयर की स्थापना एवं कनैक्टीविटी हेतु टाॅवर आदि की स्थापना की जा चुकी है। बिल भुगतान से सम्बन्धित पटल सहायक/कर्मचारी की तैनाती अपेक्षित है। तदोपरान्त विद्युत प्रकोष्ठ व बिल भुगतान पटल का कार्य प्रारम्भ हो जायेगा। उन्होंने बताया कि बिल भुगतान से सम्बन्धित पटल सहायक/कर्मचारी की तैनाती कर दी गयी है। दिनांक 27.07.2021 से विद्युत प्रकोष्ठ में बिल भुगतान से सम्बन्धित कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। औद्योगिक क्षेत्र सलेमपुर में सड़कों को सही कराने के बारे में जिलाधिकारी ने जानकारी ली। क्षेत्रीय प्रबन्धक UPSIDA अलीगढ़ द्वारा अवगत कराया गया कि 2.30 करोड़ की धनराशि के आगणन से सम्बन्धित एक D.O. पत्र प्रेषित किया गया है। जिलाधिकारी ने क्षेत्रीय प्रबन्धक UPSIDA अलीगढ़ को निर्देशित किया गया कि प्रकरण में विशेष रूचि लेते हुए निस्तारण कराना सुनिश्चित करें। क्षेत्रीय प्रबन्धक UPSIDA अलीगढ़ द्वारा अवगत कराया गया कि भू-खण्ड सं0-D.28 D.29 D.30 का संविलियन हो गया है तथा शीघ्र ही लीज़ डीड सम्पादित करायी जायेगी। जिलाधिकारी ने क्षेत्रीय प्रबन्धक UPSIDA अलीगढ़ को निर्देशित किया गया कि संविलियन सम्बन्धी पत्र की प्रति श्री निधीश अग्रवाल को उपलब्ध कराते हुए लीज़ डीड कराना सुनिश्चित करें।
अधि0अभि0 विद्युत वितरण खण्ड-प्रथम ने अवगत कराया गया है कि अलीगढ़ रोड पर अलग से औद्योगिक फीडर बनाये जाने का प्रस्ताव उच्चाधिकारियों से स्वीकृति उपरान्त खण्ड को प्राप्त हो गया है। औद्योगिक फीडर के निर्माण कार्य हेतु निविदा की कार्यवाही प्रारम्भ की जा चुकी है। साथ ही अधिशासी अभियन्ता विद्युत वितरण खण्ड-तृतीय ने अवगत कराया कि औद्योगिक क्षेत्र सलेमपुर में विद्युत सम्बन्धी समस्याओं जैसे-जर्जर तार, जर्जर पोल एवं लाइनों के सुदृढ़ीकरण कराने हेतु प्रेषित आगणन को निदेशक महोदय द्वारा बिजनेस प्लान के अन्तर्गत स्वीकृति प्रदान कर दी गयी है। बिजनेस प्लान के अन्तर्गत बजट उपलब्ध होने पर उक्त कार्य शीघ्र प्रारम्भ करा दिये जायेंगे। साथ ही छोटे एवं लघु उद्योगों को 02 कि0वाॅट से 09 कि0वाॅट तक के संयोजन निर्गत करने हेतु 100 के0वी0ए0 परिवर्तक का प्रांकलन स्वीकृत करा लिया गया है। जिससे उद्यमियों को अलग से परिवर्तक स्थापित कराने का खर्चा वहन नहीं करना पड़ेगा। जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता विद्युत-प्रथम को निर्देशित किया गया कि स्वीकृत किये गये नये औद्योगिक फीडर की स्थापना के लिये व्यक्तिगत रूचि लेते हुए प्रकरण का निस्तारण कराना सुनिश्चित करें। साथ ही अधि0अभि0 विद्युत-तृतीय को निर्देशित किया गया कि औद्योगिक क्षेत्र सलेमपुर में प्रस्तावित कार्यों को शीघ्र पूर्ण कराना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने उपायुक्त उद्योग को अपने स्तर से औद्योगिक क्षेत्र सलेमपुर में नालियों कि की गई सफाई कार्य का सत्यापन कराने एवं उद्यमियों से समस्या के निराकरण की पुष्टि करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सुनिश्चित करें कि पानी निकासी हो रही है कि नहीं यदि पानी निकासी में किसी प्रकार की समस्या है तो उसको निस्तारित कराने के निर्देश दिए।
उपायुक्त उद्योग हाथरस ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष के लिये प्रदेश सरकार द्वारा लक्ष्य निर्धारित कर दिये गये है। जिसके तहत प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना में 34 का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। पूर्व में दिए गये लक्ष्य के आधार पर 35 आवेदन प्राप्त हुए है, 32 आवेदनों को बैंक के लिये प्रेषित कर दिया गया है। बैंक द्वारा 17 आवेदनों को स्वीकृत करते हुए 10 को ऋण वितरित कर दिया गया है। मुख्यमंत्री युवा स्व-रोजगार योजना में 34 का लक्ष्य प्राप्त हुआ था जिसके लिये 57 आवेदन प्राप्त हुए थे। जिसमें से 48 आवेदनों को बैंक के लिये प्रेषित कर दिया गया है। जिसमें से बैंक द्वारा 10 आवेदनों को स्वीकृति प्रदान करते हुए 06 आवेदनों को ऋण उपलब्ध करा दिया गया है। ओडीओपी योजना में 38 का लक्ष्य प्राप्त हुआ था जिसके लिये 47 आवेदन प्राप्त हुए थे जिसमें से 39 आवेदनों को कार्यवाही हेतु बैंक के लिये प्रेषित किया गया है। जिसमें से बैंक द्वारा 07 आवेदनों को स्वीकृति प्रदान करते हुए 05 आवेदनों को ऋण उपलब्ध करा दिया गया है। जिलाधिकारी ने लम्बित प्रकरणों पर ससमय कार्यवाही करते हुये ऋण उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 जे0पी0 सिंह, अधिशासी अभियन्यता विद्युत, श्रम प्रवर्तन अधिकारी, अग्नि शमन अधिकारी, कोतवाल हाथरस, उद्यमीं तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहें।

Check Also

हाथरस: पैकवाडा़ ग्राम प्रधान एवं एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक ह्यूमनराइट्स के तत्वावधान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर रक्तदान शिविर का हुआ आयोजन

🔊 Listen to this रिपोर्ट- अनूप भारद्वाज हाथरस। पैकवाडा़ ग्राम प्रधान सीमा अग्निहोत्री व समाजसेवी …

Samachar Express